Monday, October 3, 2022
HomeBusinessRELIANCE स्वच्छ ऊर्जा कारोबार का वित्तपोषण आंतरिक स्रोत से करेगी

RELIANCE स्वच्छ ऊर्जा कारोबार का वित्तपोषण आंतरिक स्रोत से करेगी

-

Reliance News :

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female”]

Reliance Industries Limited अपने मजबूत पुराने ऊर्जा कारोबार से होने वाले नकदी प्रवाह का इस्तेमाल कंपनी के नए स्वच्छ ऊर्जा कारोबार में होने वाले पूंजी व्यय का वित्तपोषण करने के लिए आसानी से का सकती है। इससे कंपनी 2035 तक शुद्ध रूप से कार्बन उत्सर्जन को शून्य पर लाने के साथ बड़ी ऊर्जा कंपनियों में सर्वाधिक लाभ कमाने वाली इकाई होगी।

वित्तीय सेवा देने वाली कंपनी गोल्डमैन सैक्श के एक नोट में यह कहा गया है। उद्योगपति मुकेश अंबानी मे 2020 में Reliance Industries Limited को 1035 तक शुद्ध रूप से शून्य उत्सर्जन वाली कंपनी बनाने का लक्ष्य रखा था। गुजरात के जामनगर में दुनिया की सबसे बड़े तेल रिफाइनरी परिसर का संचालन करती है।

shree ram plywood

ऊर्जा कारोबार में जमीन तैयार कर चुकी

कंपनी नए स्वच्छ ऊर्जा कारोबार में जमीन तैयार करने को लेकर पहले ही 1.5 अरब डॉलर खर्च कर चुकी है। इसमें सौर ऊर्जा, बैटरी और हाइड्रोजन उत्पाद शामिल हैं। इस कारोबार से होने वाली कार्बन की बचत तेल एवं रसायन कारोबार से होने वाले उत्सर्जन की भरपाई करेगी।

फ्लूल सेल के विनिर्माण पर ध्यान

नई ऊर्जा रणनीति के तहत Reliance Industries Limited पॉलीसिलिकन, वैफर्स, सेल, मॉड्यूल्स (सौर क्षेत्र के लिए), ईवी और ग्रिड भंडारण बैटरीज तथा इलेक्ट्रोलाइजर (हाइड्रोजन उत्पादन के लिए) और फ्यूल सेल के विनिर्माण पर ध्यान दे रही है।

best dental clinic in utai
best dental clinic in utai

कर पूर्व लाभ 2.6 अरब डॉलर रहेगा

गोल्डमैन सैक्श के अनुसार रिफाइनिग के साथ-साथ हमारा अनुमान है कि तेल और गैस खोज तथा उत्पादन ऊर्जा खंड में वृद्धि को अगले चरण में ले जाएगा। हमारा अनुमान है कि घरेलू गैस उत्पादन में वृद्धि और कीमतों के दोगुना से अधिक बढ़ने से 2023-24 में खोज और उत्पादन श्रेणी से कर पूर्व लाग (ईबीआईटीडीए) दो से 2.6 अरब डॉलर रहेगा। जो 2020-21 में 35 करोड़ डॉलर था।

विनिर्माण में सौर से लेकर बैटरी और हाइड्रोजन शामिल

गोल्डमैन सैक्श ने जारी अपनी एक रिपोर्ट में कहा कि Reliance Industries Limited शुद्ध रूप से शून्य उत्सर्जन के लिए विनिर्माण की तरफ रुख कर रही है। विनिर्माण में सौर से लेकर बैटरी और हाइड्रोजन शामिल हैं।

इसमें कहा गया हमारे विचार से आरआईएल का ऊर्जा कारोबार काफी मजबूत और बेहतरीन है। अपने समकक्षों के मुकाबले कंपनी का लागत ढांचा निचले स्तर पर है जिससे कारोबार टिकाऊ और मार्जिन अपेक्षाकृत अधिक है।

sankalp academy

इन्हें भी पढ़ें :

ऑनलाइन पंजीयन 20 से राज्य स्तरीय योग स्पर्धा परीक्षा के लिए 

हेमचंद यादव विवि द्वारा 16 अप्रैल से आरंभ होने वाली बीएससी एवं बीएससी होम साइंस प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय वर्ष तथा बीएससी बीएड

Disclaimer: skypresso.com does not promote or support piracy of any kind. Piracy is a criminal offense under the Copyright Act of 1957. We further request you to refrain from participating in or encouraging piracy of any form!

Aman Agrawal
Aman Agrawalhttp://skypresso.com
Hello friends! I am Aman Agarwal, the founder of (Skypresso), if I talk about my education, then I have completed my graduation in B.Tech (Computer Science). We give you a review about the web series with the help of our website and try to reach you the right information about the entertainment world.

Related articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest posts